Blog

मृत व्यक्ति के नाम 1.35 लाख केसीसी निकालकर हजम करने का सनसनीखेज मामला, सेवा सहकारी समिति सिवनी चांपा की पहुंची शिकायत

-चांपा। सिवनी गांव इनदिनों फिर एक बार सुर्खियां बटोर रहा है। बता दे कि किसान क्रेडिट कार्ड योजना में लाखों रुपए घोटाला का मामला सामने आया है। मृत व्यक्ति के नाम से केसीसी निकाली गई और उसके राशि का आहरण किया गया इस मामले में उच्च अधिकारियों से उसकी शिकायत की गई है।

दरसअल सेवा सहकारी समिति सिवनी में मृत व्यक्ति के नाम केसीसी जारी कर रुपए आहरण करने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। इस पूरे मामले की शिकायत कलेक्टर, और उप पंजीयक जांजगीर से करते हुए दोषी संस्था प्रबंधक सहित जिम्मेदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई है। इस मामले में शिकायत के बाद हड़कंप मचा हुआ है। दिलचस्प बात यह है कि मृत व्यक्ति के नाम आखिर 1 लाख 35 हजार का केसीसी जारी कर आहरण करने की बात इतने दिनों तक क्यों छिपाकर रखी गई। बहरहाल जांच में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।
शिकायत के मुताबिक सागर सिंह पिता धावन सिंह की मृत्यु वर्ष 2021 में हो गई है। इसके बाद भी वर्ष 2022-23 के केसीसी वसूली लिस्ट नंबर 26 में मृत व्यक्ति सागर सिंह का नाम दर्ज है। इससे जाहिर है कि किसी ने मृत व्यक्ति के नाम 1 लाख 35 हजार रुपए केसीसी लोन निकाला और रुपए हजम करने के बाद उस राशि को जमा नहीं किया गया, जिसके चलते अब भी मृत व्यक्ति सागर सिंह का नाम अब भी बैंक के वसूली लिस्ट में शामिल है। शिकायत में कहा गया है कि केंद्रीय बैंक शाखा चांपा में खाता क्रमांक 606027038255 केसीसी की राशि 1 लाख 35 हजार रुपए डाला गया था। बाद में उस खाते से उक्त राशि भी आहरण हो गई। खास बात यह है कि सागर सिंह की मृत्यु दिनांक 18 सितंबर 2021 है, जो मृत्यु प्रमाण में दर्ज है। इससे कहीं न कहीं सेवा सहकारी समिति सिवनी चांपा के कर्मचारियों की भूमिका संदिग्ध है। इस पूरे मामले में दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है।

मामले में जांच होने के बाद ही होगी कार्रवाई,

किसानों को मिलने वाले सरकारी लोन में बड़ी गड़बड़ी पकड़ में आई है। सहकारी सेवा समिति सिवनी च के प्रबंधन और कर्मचारियों ने मिलीभगत कर मृत किसान के नाम से लोन निकाल लिया। मामले की जानकारी गांव में यह मामला आग की तरह फैल गई, इस प्रकरण में सारे दस्तावेज जुटाए गए जिसके बाद शिकायतकर्ता ने पूरे मामले में दस्तावेज के साथ जिला प्रशासन शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है। गांव कई किसानों का तो यह भी कहना है कि यहां के समिति प्रबंधन को तत्काल प्रभाव से हटाना चाहिए।
[9/26, 2:07 PM] Rajeev Mishra: मृत व्यक्ति के नाम केसीसी लोन उनकी जानकारी बगैर निकाला गया है। वसूली लिस्ट में जब मृत व्यक्ति का नाम अंकित था और उसकी पड़ताल करने पर फर्जीवाड़ा से इंकार नहीं किया जा सकता। मामले में कार्रवाई नहीं हुई तो वो कोर्ट जाएंगे।

-आशीष राठौर, अध्यक्ष सेवा सहकारी समिति सिवनी चांपा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button